~ अर्धनारीश्वर…

~ अर्धनारीश्वर…

प्राण शिव निर्माण शिव है,
धरा शिव ब्रह्माण शिव है,
शिव पवित्र चरित्र शिव है,
भक्ति आस्था का मित्र शिव है…

शिव भोला है त्रिशूल शिव है,
अनुकूल शिव प्रतिकूल शिव है,
धारा शिव विचार शिव है,
शब्दों का आकार शिव है…

आदि शिव अनंत शिव है,
शुरू शिव है अंत शिव है,
शिव ज्वाला शिव शीतल है,
गंगा शिव गंगा-जल शिव है…

शिव उपासना शिव ही फल है,
शिव प्रभाव भी बल शिव है,
शास्त्र शिव शस्त्र शिव है,
आत्मा शिव वस्त्र शिव है…

होनी शिव अनहोनी शिव है,
लिंग शिवा है योनि शिव है,
शिव अंधकार है मरण है शिव,
प्रातः काल की किरण है शिव…

रत्ती शिव उत्पत्ति शिव है,
भाव शिव अभिव्यक्ति शिव है,
सृष्टि रचेयता शक्ति शिव है,
शिव शिव है, पार्वती शिव है…
Advertisements